Kerala Gods Own country: Picture story

kerala Gods own country ,very true ,the most beautiful place on the earth ,this the house , जो हमेशा याद रहेगा एक अपनेपन के एहसास के साथ ,The literary meaning of Kerala is “the land of coconuts”. “Kera” in Malayalam (the language of Kerala) means coconut. As Kerala is abundant with coconut plants, it naturally got the name Kerala. In Kerala, you can find ...

[Continue reading]

Rishikesh ek nayi najar se @SamadhiCafe

ऋषिकेश सोचते ही क्या ध्यान आता है ? मेरे ख्याल से सबके दिमाग में पहले गंगा ,फिर मंदिर और वहां घूमते हुए साधू सन्यासी ? वैसे मुझे भी मुख्य भाव यही नजर आता है ,पर पिछले कुछ समय से जाते हुए यह सोच बदलने लगी है ,जब शायद पहली बार गयी हुंगी  मैं ,तब इसी सोच के साथ ही गयी थी ,फिर वहां की ...

[Continue reading]

ख्वाजाजी जिसे बुलाये वह कैसे न जाए पार्ट ३

कल का बीता दिन पुष्कर बाज़ार ,मंदिर और विदेशी पर्यटकों के नाम रहा था और आज सुबह फिर से सूरज जी अपनी पक्षियों की सेना ले कर मौजूद थे।कल का बरसा पानी प्यासी मरुभूमि के पेट में समा चुका था।शाम की बारिश के अब अलसुबह भी कोई निशाँ बाकी नही दिख रहे थे।हां हवा में वही सुबह की ताजगी थी जो मुख्यत दिल्ली जैसे ...

[Continue reading]

पुष्कर बाजार और विदेशी रंग: Evening in Pushkar Market

Pushkar में दूसरा दिन का सवेरा वाकई अदभुत था। इतने सारे पक्षियों का मधुर गान,आकाश में फैली उगते सूरज की लालिमा और भीगी सी  हवा दिल्ली जैसे शहर में कहाँ संभव है। टेंट के आंगन में आये तो देखा मोरनी ,कबूतर, तीतर और नील कंठ पक्षी अपनी महफ़िल जमाये बैठे थे। दिल खुश हो गया देख कर चाय की आदत ने घंटी बजवाई और” प्रभु” ...

[Continue reading]

यात्रा विद नन्हे ट्रैवेलर्स ! Travelling with kids

travelling-with-kids

Alice in Wonderland almost सबने देखा होगा। Alice एक बच्ची जो खेल से बोर हो कर एक नदी के किनारे बैठी है, तभी एक कपड़े पहने खरगोश को भागते हुए देखती है और उत्सुकता से उस खरगोश के पीछे उस के बिल से एक अदभुत दुनिया में पहुंच जाती है और कई रोचक और हैरान कर देने वाली चीजों को देखती है। उसकी इस दुनिया के ...

[Continue reading]

Mini Kolkata in Delhi: Durga Puja, CR Park

बारिश के बाद मौसम में बदलाव आते ही हमारे देश का मूड भी फेस्टिव हो जाता है । शरदीय नवरात्रे इसकी शुरुआत ले कर आते है।पंजाबी होने के कारण तो व्रत, कंजक करते ही आ रहे है ,पर इस बार घर के इतने पास होने पर भी पहली बार दिल्ली के मिनी कलकत्ता चितरंजन पार्क जाने का मौका मिला और बंगाली Durga Puja देखने का ...

[Continue reading]