APPLE Vinegar ( एप्पल साइडर विनेगर )

एप्पल साइडर विनेगर ( apple vineger) आज के वक्त में बहुत ही लोकप्रिय है ,यह सेहत के लिए बहुत फायदेमंद समझा जाता है . आज की इस पोस्ट में हम इसके बारे में जानकरी लेंगे .

एप्पल साइडर विनेगर क्या है ?

सबसे पहले हम जानेंगे कि एप्पल साइडर विनेगर है क्या और यह कैसे बनता है ? कुछ लोग एप्पल जूस को ही एप्पल विनेगर समझते हैं .पर यह जूस न हो सेब के रस  को फोर्मेट करके बनाया जाता है .यह  एक तरीके का सिरका है जिसमें साइडर मुख्य हिस्सा है। ये उस लिक्विड से बनता है जो सेब को निचोड़ने से मिलता है। फर्मेंटेशन के बाद जो सिरका बचता है उसे हम सेब का सिरका या ए.सी.वी कहते हैं। अपने ऑर्गेनिक और पैश्चराइज्ड रूप में इसे एप्पल साइडर विनेगर विद मदर कहा जाता है। आप बोतल के निचले भाग में एक मकड़ी के जाले जैसा तैरता हुआ ढांचा देखकर इसकी पहचान कर सकते हैं।
सेब के सिरके के अलग अलग प्रकार बाज़ार में उपलब्ध हैं। जैसे कि मदर के साथ सेब का सिरका, शहद वाला सेब का सिरका, अदरक और नींबू के स्वाद के साथ सेब का सिरका आदि।

एप्पल विनेगर के फायदे

इसके बहुत ही फायदे हैं . यह हर जगह हर किस्म से फायदे ही पहुंचाता है चाहे वो आम स्वास्थ्य हो, स्वाद, खूबसूरती, फिटनेस या फिर कोई भी अन्य घरेलू लाभ, सेब के सिरके के फायदे और इसे प्रयोग करने के तरीके अनगिनत हैं। सेब के सिरके के स्वास्थ्य, खूबसूरती और फिटनेस पर होने वाले फायदों के बारे में समझते हैं। सिर से ले कर पांव तक यह उपयोग होता है .
सेब के सिरके से बाल धोना आपके बालों की खो गयी  काली चमक वापस लाने में आपकी मदद करता है। बालों को शैम्पू करने के बाद एसीवी और पानी के मिश्रण से धोएं।  सर्दी के कारण बहती हुई अपनी नाक से परेशान हो गए हैं? तो ये सेब का सिरका आपकी मदद कर सकता है। 1 चम्मच शहद और 2 चम्मच एसीवी गुनगुने पानी के साथ लेने से साइनस इन्फेक्शन और बंद नाक से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।एक फेस क्लिएंज़र के तौर पर सेब का सिरका काफी मददगार हो सकता है अगर इसे पानी के साथ मिलाकर रुई की मदद से चेहरे पर लगाया जाए। ये आपके चहरे को अच्छी रंगत भी देता है। एक बढ़िया डिटॉक्स टॉनिक होने के कारण सेब का सिरका चहरे के दानों से छुटकारा पाने में भी मदद करता है।  सेब का सिरके का प्रयोग चटनी में करें। हाज़मे के लिए अदरक के साथ सेब के सिरके का प्रयोग करें।
एसीवी को गुनगुने पानी के साथ मिलाकर 15 मिनट तक पैर भिगोकर रखें। ये दुर्गंध फैला रहे बेक्टीरिया से छटकारा दिलाएगा।

सावधानी

पर किसी भी चीज को सिर्फ पढ़ कर ही इस्तेमाल न करें ,अपने डाक्टर से इसकी सलाह जरुर करें, क्यूंकि किसी भी चीज की अति बुरी होती है और बिना जानकारी के लेना और भी खतरनाक हो सकता है /इसकी वैसे एक्सपायरी डेट अधिकतर लिखी नहीं होती है ,पर दो साल तक यह आराम से इस्तेमाल कर सकतें हैं ,फिर भी यदि इसमें झाग या अन्य कोई स्मेल महसूस हो तो इसको इस्तेमाल न करें . बहुत ज्यादा एसिडिटी बनने वाले लोग भी इसका इस्तेमाल सोच समझ कर करें , यह मेरा अपना पर्सनल अनुभव है .

यह आपको आजकल #amozon ऑनलाइन ,#patanjali स्टोर्स या किसी भी फ़ूड शॉप से मिल सकता है .

Leave A Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *